Aaj bhi vaisa hi

इन उँगलियों पे लिपटी वो हसरत भरे नरम हाथ मासूम नज़रों से ताकती वो नज़र और वो एहसास आज भी वैसे ही है दौड़ के सीने से लगना खुश हो कर कंधो पर झूल जाना हर आप बीती बयान करना वो चुलबुली सी बातें आज भी वैसे ही हैं उस शरारती कोने में छिपा हुआContinue reading “Aaj bhi vaisa hi”

Right now I have this day to finish

Each box tickedWhew!! the work is done. the day draws to an endand we count it as one. Rising again with the sunUnwilling to start the next countYet eager to finishing this oneboxes to be ticked, once again mount Each count ends in a week, quitely into a month, the week creptI celeberate the birthContinue reading “Right now I have this day to finish”