Cheery Blossomed

The night glitteredMany twinkling eyes witnessedLaying their souls bare The music filled the airMany revellers dancedwithout not a single care treads pointed to the venueAll roadsleading to one Some joyfully walkingSome creeping in the carsSome on the run Flashing lights of the cameraSmiling facesgleamed in the sun Many colours mingledLight pinkturned out to be funContinue reading “Cheery Blossomed”

Bliss

इतना सुकून है यहाँहर दिन की दौड़ से दूरकितना सुकून होगा वहाँइन सब से परेजहां तन्हाई मेंअकेलापन नहींखामोशी में जहांउदासी नहींबस दूरदुनिया से अलगख़ुशी से भी परेखुद के आस पासख़ामोशतनहाखुश

Khali haath aaye the, Khali haath jayenge

कौनसा पिटारा लेके जाओगे क्या क्या पसंद आया है कितनी लम्बी उम्र है उसमें कितनी ज़िंदगी है समेटने में उम्र गुज़ारी है इन संदूक़ों का क्या होगा बहुत भारी हो गयी है इस भोझ का क्या होगा दुआओं का पिटारा भरना है खवायिशों का पेट कहाँ भरा है हाथ ख़ाली रहने वाले हैं जहां अगलेContinue reading “Khali haath aaye the, Khali haath jayenge”